Aazma Le Song

Aazma Le MP3 Download – Presenting you the Aazma Le MP3 Song By Young Stunners. Listen to this Song online or Aazma Le Song Download at 320kbps with fast downloading links from our site. Our Site is Providing you with the Aazma Le Song MP3 Download.

Download MP3Young Stunners Songs

Talha Anjum Aazma Le Audio Song is the Latest trending Song on Youtube as well on TikTok which is sung by Young Stunners.

Aazma Le Song Download Mp3

If you are looking for Aazma Le Mp3 Song Download free 320kbps. Just click on the download button to download the Aazma Le Song. If you are facing any trouble while downloading this Song audio then you have to click on the 3 dots shown on the right side of the audio player and then click on download. You can listen to the Aazma Le Song online on our site for free or you can download Young Stunners’s Aazma Le full Song in Mp3 (320kbps) for free.

Aazma Le Song Lyrics

Khud se bhi mila karein

Sirr utha ke chala karein

Khuda ke tareeqe hum nahi samajh sakte

Hum usse kya gila karein?

Duniya sang dil, banti meri dushman

Hum kam az kam khud se hi sulah karein

Kam bola karein, zyada suna karein

Rab deta hai maafi, phir gunaah karein

Yeh taaqat thikane badal sakti

Qalam ki taaqat takhat bhi palat deti

Likhaari jaan leva hoon, par

Likhaai hi roz ab jeene ka sabab deti

Warna zindagi mauqe toh kam deti

Mehfilon mein toh raunak bhi humse thi

Idhar hustle karte karte poora din gaya

Urdu rap mein, urdu rap mere bin kya?

Facts hain yeh, flex nahi

Mujhe ghalib jaisa likhne ka faiz nahi

Woh habeeb hain mere toh mujhse door kyun?

Woh hareef hain mere toh unki khair nahi

Aajkal bhejein mujhe text sab

Whatsapp pe they wanna know what’s up

Meri zindagi kitno ki hasrat

Main misaal, mera naam lete maslan

Dil phenk ke na dil tod

Billboard pe ab dikhe shakal inko

Mera bank balance lagta tha pin code

Ab safar dekh sirf sifar gin tu

Ayy, I belong here, jaane ka mood nahi hai

Headliners hum, teri koi news nahi hai

Kya woh sunte, par karte mehsoos nahi yeh

Waade toote, par tootein asool nahi yeh

Jo bhi hustle thi, gayi woh fazool nahi hai

Lekin duniya toh faani hai, bhool nahi yeh

Hum fana huye iss fanoon ki khaatir

Pagalpan ki had tak junoon bhi hai

Tum sub rakh lo, main shab rakhta hoon

Main jalwa, jalaal aur karb rakhta hoon

Iss hi dil mein rakhta hoon dard apno ka

Dil ka ek khana ab sard rakhta hoon

Zaroorat aur khwahish mein farq rakhta hoon

Hisab se lafzon mein harf rakhta hoon

Dildaar hoon main bada, par dil shikasta hoon

The joke is on you, main tum pe hasta hoon

Sehma tha dil, par tha yaqeen

Ladkhadate qadam, par rasta wahi

Syahi mein doobi zindagi toh seekha udna tabhi

Aazma le, zakhmon ko tu apna le

Mashal tu dil ki jala le, dekhegi duniya sabhi

Aazma le, zakhmon ko tu apna le

Mashal tu dil ki jala le, dekhegi duniya sabhi

Baatein yeh mukhtasar, main karta raha mustaqil

Nahi hote mushtamil, kahani yeh mukhtalif

Yeh khwaab huye muntaqil, kagaz mushta’il

Urdu rap aur main uska dil, munafiq jo munfa’il

Log muntazir the iss qadar, phir kis ka dar?

Hum muntakhab, sab muntashar jab chunte lafz

Ab sunte sab yeh khush khabar, jo bad nazar woh darguzar

Yeh dhun pakad, kyun besabar? Kyun be asar? Tu le sabaq

Ab befikar yeh sher arz, motabar hon beshtar

Ho der jab toh be adab, yeh khel ab lagta na mumkin

Main aur mere khwaab, jeena chahta hoon main khul ke

Qalam yeh aazaad, yahan nizaam saare ulte

Lagi jaise aag, sheher baarishon mein dhulte

Dil mein ho dard jab, yahan kalakaar rulte

Zindagi paheli, boojho jaano kitne uljhe

Andhere mein chiraag jaise hi yeh lehja sulge

Kate mere par, phir bhi jaane kaise udte

Mujhe udne de

Toote jo dil woh aaj judne de

In aankhon ko khushiyon se bharne de

Alfaaz mere dil mein utarne de

Manzil toh khush ho theherne pe

Yeh ghar mera, jad ko na marne dein

Ubhrenge, sooraj yeh dhalne de

Waqt lage khud ko badalne mein

Magar waqt yeh badalta hai

Safar yeh taveel beshak nange pair chalta reh

Chubhe bade qeel, khuda zakhmon ko bharta reh

Khud pe yaqeen hai toh zamaane se ladta reh

Tha hi na kuch khone ko, har gully, har ek kone ko

Main karta hoon mutaasir apni baaton se, chal hone do

Jo so rahe the, sone do, main likhne baitha paune do

Raatein na mili sone ko, in khwabon ko pirone do

Dekha tha jo kal woh toh jee raha hoon aaj main

Likhe asal haadse, saare bane hain khaak se

Jaana hai hum ne khaak mein, yeh ilm mera baant de

Nahi koi bade baap ke, hai faqar apne baap pe

Aaj bhi iss shayari mein saadgi

Jazbaat bhi aur yeh ehsaas bhi

Hai sabar ka phal meetha aaj bhi

Yeh hunar dilon ki awaaaz bhi

Sehma tha dil, par tha yaqeen

Ladkhadate qadam, par rasta wahi

Syahi mein doobi zindagi toh seekha udna tabhi

Aazma le, zakhmon ko tu apna le

Mashal tu dil ki jala le, dekhegi duniya sabhi

Aazma le, zakhmon ko tu apna le

Mashal tu dil ki jala le, dekhegi duniya sabhi

Lyrics In Hindi Written

खुद से भी मिला करें

सर उठा के चला करें

खुदा के तरीके हम नहीं समझ सकते

हम उससे क्या गिला करें

दुनिया संग दिल बनती मेरी दुश्मन

हम कम-अज़-कम खुद से ही सुलाह करें

कम बोलै करें ज़्यादा सुना करें

रब देता है माफ़ी फिर गुनाह करें

ये ताकात ठिकाने बदल सकती

क़लम की ताक़त तखत भी पलट देती

लिखारी जान लेवा हूँ

पर लिखाई ही रोज़ अब जीने का सबब देती

वरना ज़िन्दगी मौके तो कम देती

महफिलों में तो रौनक भी हमसे थी

इधर हसल करते करते पूरा दिन गया

उर्दू रैप में

उर्दू रैप मेरे बिन क्या

फैक्ट्स हैं ये फ्लेक्स नहीं

मुझे ग़ालिब जैसे लिखने का फैज़ नहीं

वो हबीब है मेरे तो मुझसे दूर क्यूँ

वो हरीफ़ है मेरे तो उनकी खैर नहीं

आज कल भेजे मुझे टेक्स्ट सब

व्हाट्सप्प पे दे वन्ना नो ह्वटस अप

मेरी ज़िन्दगी कितनो की हसरत

मैं मिसाल मेरा नाम लेते मसलन

दिल फेंक के ना दिल तोड़

बिलबोर्ड पे अब दिखे शकल इनको

मेरा बैंक बैलेंस लगता था पिन कोड

अब सफर देख सिर्फ सिफर गिन तू

ऐय, आइ बिलोंग हेयर

जाने का मूड नहीं है

हेडलाइनर्स हम

तेरी कोई न्यूज़ नहीं है

क्या वो सुनते पर करते महसूस नहीं ये

वादे टूटे पर टूटे असूल नहीं ये

जो भी हसल थी गयी वो फ़ुज़ूल नहीं है

लेकिन दुनिया तो फानी है, भूल नहीं ये

हम फ़ना हुए इस फनून की खातिर

पागलपन की हद्द तक जूनून भी है

तुम सुभ रख लो

मैं शब रखता हूँ

मैं जलवा जलाल और कर्ब रखता हूँ

इस ही दिल में रखता हूँ दर्द अपनों का

दिल का एक खाना अब सर्द रखता हूँ

ज़रूरत और ख़्वाहिश में फ़र्क़ रखता हूँ

हिसाब से लफ्ज़ो में हर्फ़ रखता हूँ

दिलदार हूँ मैं बड़ा पर दिल शिकस्ता हूँ

द जोक इज़ ऑन यू, मैं तुम पे हँसता हूँ

सेहमा था दिल पर था यकीन

लड़खड़ाते कदम पर रास्ता वोही

स्याही में डूबी ज़िन्दगी तो सीखा उड़ना तभी

आज़मा ले

ज़ख्मों को तू अपना ले

मशल तू दिल की जला ले

देखेगी दुनिया सभी

आज़मा ले

ज़ख्मों को तू अपना ले

मशल तू दिल की जला ले

देखेगी दुनिया सभी

बातें ये मुख़्तसर

मैं करता रहा मुस्तक़िल

नहीं होते मुश्तमिल

कहानी ये मुख़्तलिफ़

ये ख्वाब हुये मुन्तक़िल

काग़ज़ मुश्त’इल

उर्दू रैप और मैं उसका दिल

मुनाफ़िक़ जो मुनफा’इल

लोग मुंतज़िर थे इस क़दर

फिर किस का डर

हम मुंतखब

सब मुंतशिर

जब चुनते लफ्ज़

अब सुनते सब

ये खुश खबर

जो बद-नज़र

वो दरगुज़र

ये धुन पकड़

क्यूँ बे-सबर

क्यों बे-असर

तू ले सबक़

अब बेफिक्र ये शेर अर्ज़

मौत पर हो बेश्तर

हो देर जब तो बे-अदब

ये खेल अब

लगता नामुमकिन

मैं और मेरे ख्वाब

जीना चाहता हूँ मैं खुल के

क़लम ये आज़ाद

यहाँ निज़ाम सारे उलटे

लगी जैसे आग

शहर बारिशों में धुलते

दिल में हो दर्द

जब यहाँ कलाकार रुलते

ज़िन्दगी पहेली

बूझो जाने कितने उलझे

अंधेरे में चिराग

जैसे ही ये लहजा सुलगे

कटे मेरे पर

फिर भी जाने कैसे उड़ते

मुझे उड़ने दे

टूटे जो दिल वो आज जुड़ने दे

इन आँखों को खुशियों से भरने दे

अलफ़ाज़ मेरे दिल में उतरने दे

मंज़िल तो खुश हो ठहरने पे

ये घर मेरा जड़ को ना मरने दे

उभरेंगे सूरज ये ढलने दे

वक़्त लगे खुद को बदलने में

मगर वक़्त ये बदलता है

सफर ये तवील बेशक नंगे पैर चलता रह

चुभे पड़े कील

खुदा ज़ख्मों को भरते रह

खुद पे यकीन है तो

ज़माने से लड़ते रह

था ही ना कुछ खोने को

हर एक गुल्ली हर एक कोने को

मैं करता हूँ मुतासिर

अपनी बातों से चल होने दो

जो सो रहे थे सोने दो

मैं लिखने बैठा पौने दो

रातें ना मिली सोने को

इन ख्वाबों को पिरोने दो

देखा था जो कल वो तो

जी रहा हूँ आज मैं

लिखे असल हादसे

सारे बने हैं ख़ाक से

जाना है हमने ख़ाक में

ये इल्म मेरा बाँट दे

नहीं कोई बड़े बाप के

है फ़ख़र अपने बाप पे

आज भी इस शायरी में सादगी

जज़्बात भी और ये एहसास भी

है सबर का फल मीठा आज भी

ये हुनर दिलों की आवाज़ भी

सेहमा था दिल पर था यकीन

लड़खड़ाते कदम पर रास्ता वोही

स्याही में डूबी ज़िन्दगी तो सीखा उड़ना तभी

आज़मा ले

ज़ख्मों को तू अपना ले

मशल तू दिल की जला ले

देखेगी दुनिया सभी

आज़मा ले

ज़ख्मों को तू अपना ले

मशल तू दिल की जला ले

देखेगी दुनिया सभी

Aazma Le Song Credits
Aazma Le Song MP3 Download
Artists Young Stunners
Music composer Young Stunners
Lyricist Bilal Ali & Zahid Qureshi
Uploaded On 01-09-2022

Aazma Le Song MP4 Download – Young Stunners

FAQs

Who sang Aazma Le Song? Young Stunners
Who Wrote The Lyrics of Aazma Le Song? Bilal Ali & Zahid Qureshi
Who Composed Music Of Aazma Le Song? Young Stunners

Copyright/DMCA: We DO NOT own any copyrights of this song. This Song "Aazma Le Song" was either uploaded by our users or it must be readily available on various places on public domains as FREE download. If you want this Aazma Le Song song to be removed or if it is copyright infringement, do drop us an email at [email protected] and this will be taken down within 24 hours!